Oct 5, 2012

बेटियां

कभी महसूस ही नहीं होता 
बीज का अंकुरण 
पत्तियों का प्रस्फुटन 
तनें का बढ़ना 
शाखों का निकलना
फूलों का खिलना
बेटियां कब बड़ी हो जाती है 
कभी महसूस ही नहीं होता।
-5 अक्तूबर, 3PM 
Post a Comment

Followers